हिन्दी व्याकरण – शब्द भंडार – अनेक के एक शब्द

By | 19/03/2016

इसे इस प्रकार समझा जा सकता है-

 

1 जहाँ पहुँचा न जा सके

 

अगम, अगम्य
2 जिसे बहुत कम ज्ञान हो, थोड़ा जानने वाला

 

अल्पज्ञ
3 मास में एक बार आने वाला

 

मासिक
4 जिसके कोई संतान न हो

 

निस्संतान
5 जो कभी न मरे

 

अमर
6 जिसका आचरण अच्छा न हो दुराचारी
7 पंद्रह दिन में एक बार होने वाला

 

पाक्षिक
8 अच्छे चरित्र वाला

 

सच्चरित्र
9 आज्ञा का पालन करने वाला

 

आज्ञाकारी
10 रोगी की चिकित्सा करने वाला चिकित्सक
11 सत्य बोलने वाला सत्यवादी
12 दूसरों पर उपकार करने वाला

 

उपकारी
13 जिसे कभी बुढ़ापा न आये

 

अजर
14 दया करने वाला दयालु
15 जिसका आकार न हो

 

निराकार
16 जो आँखों के सामने हो

 

प्रत्यक्ष
17 जिसे देखकर डर (भय) लगे

 

डरावना, भयानक
18 जो स्थिर रहे स्थावर
19 ज्ञान देने वाली ज्ञानदा
20 भूत-वर्तमान-भविष्य को देखने (जानने) वाले

 

त्रिकालदर्शी
21 जानने की इच्छा रखने वाला जिज्ञासु
22 जिसे क्षमा न किया जा सके

 

अक्षम्य
23 जिसका कोई मूल्य न हो

 

अमूल्य
24 जो वन में घूमता हो

 

वनचर
25 जो इस लोक से बाहर की बात हो

 

अलौकिक
26 जो इस लोक की बात हो

 

लौकिक
27 जिसके नीचे रेखा हो

 

रेखांकित
28 जिसका संबंध पश्चिम से हो

 

पाश्चात्य
29 जो स्थिर रहे

 

स्थावर
30 दुखांत नाटक

 

त्रासदी
31 जो क्षमा करने के योग्य हो

 

क्षम्य
32 हिंसा करने वाला

 

हिंसक
33 हित चाहने वाला

 

हितैषी
34 हाथ से लिखा हुआ

 

हस्तलिखित
35 सब कुछ जानने वाला

 

सर्वज्ञ
36 जो स्वयं पैदा हुआ हो

 

स्वयंभू
37 जो शरण में आया हो

 

शरणागत
38 जिसका वर्णन न किया जा सके

 

वर्णनातीत
39 फल-फूल खाने वाला

 

शाकाहारी
40 जिसकी पत्नी मर गई हो

 

विधुर
41 जिसका पति मर गया हो

 

विधवा
42 सौतेली माँ

 

विमाता
43 व्याकरण जाननेवाला

 

वैयाकरण
44 रचना करने वाला

 

रचयिता
45 खून से रँगा हुआ

 

रक्तरंजित
46 अत्यंत सुन्दर स्त्री

 

रूपसी
47 कीर्तिमान पुरुष

 

यशस्वी
48 कम खर्च करने वाला

 

मितव्ययी
49 मछली की तरह आँखों वाली

 

मीनाक्षी
50 मयूर की तरह आँखों वाली

 

मयूराक्षी
51 बच्चों के लिए काम की वस्तु

 

बालोपयोगी
52 जिसकी बहुत अधिक चर्चा हो

 

बहुचर्चित
53 जिस स्त्री के कभी संतान न हुई हो

 

वंध्या (बाँझ)
54 फेन से भरा हुआ

 

फेनिल
55 प्रिय बोलने वाली स्त्री

 

प्रियंवदा
56 जिसकी उपमा न हो

 

निरुपम
57 जो थोड़ी देर पहले पैदा हुआ हो

 

नवजात
58 जिसका कोई आधार न हो

 

निराधार
59 नगर में वास करने वाला

 

नागरिक
60 रात में घूमने वाला

 

निशाचर
61 ईश्वर पर विश्वास न रखने वाला

 

नास्तिक
62 मांस न खाने वाला

 

निरामिष
63 बिलकुल बरबाद हो गया हो

 

ध्वस्त
64 जिसकी धर्म में निष्ठा हो

 

धर्मनिष्ठ
65 देखने योग्य

 

दर्शनीय
66 बहुत तेज चलने वाला

 

द्रुतगामी
67 जो किसी पक्ष में न हो

 

तटस्थ
68 तत्त्त्तव को जानने वाला

 

तत्त्त्तवज्ञ
69 तप करने वाला

 

तपस्वी
70 जो जन्म से अंधा हो

 

जन्मांध
71 जिसने इंद्रियों को जीत लिया हो

 

जितेंद्रिय
72 चिंता में डूबा हुआ

 

चिंतित
73 जो बहुत समय कर ठहरे

 

चिरस्थायी
74 जिसकी चार भुजाएँ हों

 

चतुर्भुज
75 हाथ में चक्र धारण करनेवाला

 

चक्रपाणि
76 जिससे घृणा की जाए

 

घृणित
77 जिसे गुप्त रखा जाए

 

गोपनीय
78 गणित का ज्ञाता

 

गणितज्ञ
79 आकाश को चूमने वाला

 

गगनचुंबी
80 जो टुकड़े-टुकड़े हो गया हो

 

खंडित
818 आकाश में उड़ने वाला

 

नभचर
82 तेज बुद्धिवाला

 

कुशाग्रबुद्धि
83 कल्पना से परे हो

 

कल्पनातीत
84 जो उपकार मानता है

 

कृतज्ञ
85 किसी की हँसी उड़ाना

 

उपहास
86 ऊपर कहा हुआ

 

उपर्युक्त
87 ऊपर लिखा गया

 

उपरिलिखित
88 जिस पर उपकार किया गया हो

 

उपकृत
89 इतिहास का ज्ञाता

 

अतिहासज्ञ
90 आलोचना करने वाला

 

आलोचक
91 ईश्वर में आस्था रखने वाला

 

आस्तिक
92 बिना वेतन का

 

अवैतनिक
93 जो कहा न जा सके

 

अकथनीय
94 जो गिना न जा सके

 

अगणित
95 जिसका कोई शत्रु ही न जन्मा हो

 

अजातशत्रु
96 जिसके समान कोई दूसरा न हो

 

अद्वितीय
97 जो परिचित न हो

 

अपरिचित
98 जिसकी कोई उपमा न हो

 

अनुपम

One thought on “हिन्दी व्याकरण – शब्द भंडार – अनेक के एक शब्द

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *